भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

स्मृति-लोप / संजीब कुमार बैश्य / अनिल जनविजय

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

बहुत दर्द
हो रहा है?

नहीं,
कोई दर्द नहीं।

इतिहास ने
सब साफ़ कर दिया है।

बहुत
हृदयहीन हो तुम?

स्मृति-लोप
हो गया है मुझे।

अँग्रेज़ी से अनुवाद : अनिल जनविजय

लीजिए, अब अँग्रेज़ी में मूल कविता पढ़िए
       Amnesia

Where is your pain?
I have none.
Your history has erased it.
Don’t you have a heart?
I have amnesia.

–Sanjib Kumar Baishya