भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

चाँद पत्रिका

Kavita Kosh से
Lalit Kumar (चर्चा | योगदान) द्वारा परिवर्तित 14:53, 8 मई 2018 का अवतरण ("चाँद पत्रिका" सुरक्षित कर दिया ([संपादन=केवल प्रबन्धकों को अनुमति दें] (अनिश्चितकालीन) [स्थानांत)

(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
चाँद
Chaand-patrika-logo-kavitakosh.png

kavitakosh.org/chaandpatrika

प्रकाशक
सम्पादक नंद गोपाल सिंह सहगल, महादेवी वर्मा, नन्द किशोर तिवारी इत्यादि
भाषा हिन्दी
अवधि मासिक
प्रथम अंक नवम्बर 1922
विषय साहित्य
ISSN
प्रकाशन का स्थान
इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश
सदस्यता / खरीदने / सामग्री भेजने हेतु पता
अन्य जानकारी
इस पत्रिका में नारी जीवन से सम्बंधित चर्चा अधिक रहती थी। "चाँद" का मारवाड़ी अंक अपने समय में बहुचर्चित रहा। साहित्यिक होने के साथ-साथ इस पत्रिका में समाज सुधार की प्रवृत्ति बलवती रही। "चाँद" "फांसी अंक" इसका सबसे चर्चित विशेषांक रहा। "फांसी" अंक नवम्बर 1928 में दिवाली के दिन प्रकाशित हुआ था। इस अंक को अंग्रेज़ सरकार ने प्रतिबंधित कर दिया। किसी के पास "फांसी अंक" की प्रति पाए जाने पर जेल हो सकती थी।
कविता कोश आपका अपना मंच है। यदि आप किसी पत्रिका का प्रकाशन करते हैं तो आप भी अपनी पत्रिका को साझा मंच पर शोधार्थियों की सुविधा हेतु उपलब्ध करा सकते हैं। इसके लिए कविता कोश टीम से सम्पर्क करें।

वर्ष 1938 के अंक

वर्ष 1937 के अंक

वर्ष 1933 के अंक

वर्ष 1932 के अंक