भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए

दीनदयाल गिरि

Kavita Kosh से
अनिल जनविजय (चर्चा | योगदान) द्वारा परिवर्तित 14:48, 16 जून 2019 का अवतरण (कुछ प्रतिनिधि रचनाएँ)

(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

दीनदयाल गिरि
Photo-not-available-cam-kavitakosh.png
क्या आपके पास चित्र उपलब्ध है?
कृपया kavitakosh AT gmail DOT com पर भेजें

जन्म मार्च,1790 (वसन्तपंचमी संवत 1847)
निधन 1865 (संवत1922)
उपनाम
जन्म स्थान वाराणसी के पास किसी गाँव में
कुछ प्रमुख कृतियाँ
अनुराग बाग, दृष्टान्त्त तरंगिनी, अन्योक्ति माला, वैराग्य दिनेश, अन्योक्ति कल्पद्रुम
विविध
कवि दीनदयाल गिरी की पाँचों किताबें बाबू श्याम सुन्दर दास द्वारा सम्पादित रचनावली में 2019 में काशी नागरी प्रचारिणी सभा से प्रकाशित हुई थीं। ये दसनामी संन्यासियों में से एक थे। इनके गुरु का नाम कुशगिरी था।
जीवन परिचय
दीनदयाल गिरि / परिचय
कविता कोश पता
www.kavitakosh.org/

कुछ प्रतिनिधि रचनाएँ