भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

घाम डुबी तारा नउदाएको आकाश हुँ म / भीमदर्शन रोका

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

घाम डुबी तारा नउदाएको आकाश हुँ म
Bhim Darshan Roka Book Cover page.jpg
रचनाकार भीमदर्शन रोका
प्रकाशक श्रीमती मीना रोका
वर्ष वि.सं. २०५५
भाषा नेपाली
विषय
विधा
पृष्ठ
ISBN
विविध
इस पन्ने पर दी गई रचनाओं को विश्व भर के स्वयंसेवी योगदानकर्ताओं ने भिन्न-भिन्न स्रोतों का प्रयोग कर कविता कोश में संकलित किया है। ऊपर दी गई प्रकाशक संबंधी जानकारी छपी हुई पुस्तक खरीदने हेतु आपकी सहायता के लिये दी गई है।