भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

"गुनगुनी धूप में बैठकर / शरद कोकास" के अवतरणों में अंतर

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
('{{KKGlobal}} {{KKPustak |चित्र= |नाम=गुनगुनी धूप में बैठकर |रचनाकार=...' के साथ नया पृष्ठ बनाया)
 
 
पंक्ति 1: पंक्ति 1:
 
{{KKGlobal}}
 
{{KKGlobal}}
 
{{KKPustak
 
{{KKPustak
|चित्र=
+
|चित्र=Gunguni-dhoop-mein-baithkar-kavitakosh.jpg
 
|नाम=गुनगुनी धूप में बैठकर
 
|नाम=गुनगुनी धूप में बैठकर
 
|रचनाकार=[[शरद कोकास]]
 
|रचनाकार=[[शरद कोकास]]
पंक्ति 32: पंक्ति 32:
 
* [[नींद न आने की स्थिति में लिखी कविता: तीन / शरद कोकास]]
 
* [[नींद न आने की स्थिति में लिखी कविता: तीन / शरद कोकास]]
 
* [[नींद न आने की स्थिति में लिखी कविता: चार / शरद कोकास]]
 
* [[नींद न आने की स्थिति में लिखी कविता: चार / शरद कोकास]]
* [[नींद न आने की स्थिति में लिखी कविता: पांच / शरद कोकास]]
+
* [[नींद न आने की स्थिति में लिखी कविता: पाँच / शरद कोकास]]
 
* [[लोहे का घर: एक / शरद कोकास]]
 
* [[लोहे का घर: एक / शरद कोकास]]
 
* [[लोहे का घर: दो / शरद कोकास]]
 
* [[लोहे का घर: दो / शरद कोकास]]

20:57, 1 जुलाई 2016 के समय का अवतरण

गुनगुनी धूप में बैठकर
Gunguni-dhoop-mein-baithkar-kavitakosh.jpg
रचनाकार शरद कोकास
प्रकाशक श्री प्रकाशन, द्वारा महावीर अग्रवाल संपादक सापेक्ष, ए-14, आदर्श नगर, दुर्ग (छत्तीसगढ़)
वर्ष 1993
भाषा हिन्दी
विषय
विधा कविता
पृष्ठ 76
ISBN
विविध
इस पन्ने पर दी गई रचनाओं को विश्व भर के स्वयंसेवी योगदानकर्ताओं ने भिन्न-भिन्न स्रोतों का प्रयोग कर कविता कोश में संकलित किया है। ऊपर दी गई प्रकाशक संबंधी जानकारी छपी हुई पुस्तक खरीदने हेतु आपकी सहायता के लिये दी गई है।